How Reliance JIO Got Success?

Reliance JIO Ne Kese Safalta Hasil Ki?

 

दोस्तों आपको पता है कि आज भारत में जिसके भी पास एक स्मार्टफोन है उसके पास जरूर एक रिलायंस जियो का सिम होगा.  आप भी शायद रिलायंस जियो का एक उपभोक्ता होंगे.  कभी-कभी आपके मन में भी यह सवाल आया होगा कि रिलायंस जियो ने कैसे इतना सारा पॉपुलर भी हासिल कर लो.  बहुत सारे YouTube के वीडियो और इंटरनेट के ब्लॉक को मैंने इसके बारे में पढ़ा जब मेरे मन में भी यह सवाल आया था.  और मुझे जब इसका जवाब मिला तो मैं आपको बताने जा रहा हूं इसके बारे में.  कहा जा रहा है कि पहले जॉब रिलायंस कम्युनिकेशन की जॉब मुकेश अंबानी ने उस को आगे लाने के लिए मोबाइल फोन सिर्फ ₹500 में देना शुरू की.  यह बहुत पुरानी बात है जब Reliance CDMA पहले पहले शुरू हुई थी.  मुकेश अंबानी को इंडियन टेलीकॉम में बहुत इंटरेस्ट   हुआ करता था.  लेकिन जब उनके घर के संपत्ति वह जाने लगा तब मुकेश अंबानी को टेलीकॉम नहीं मिला था और कुछ ऐसे एग्रीमेंट किया गया था मुकेश अंबानी कुछ समय तक कोई भी टेलीकॉम कंपनी शुरू नहीं कर सकते ना तो खरीद सकते हैं.  लेकिन जब यह अग्रीमेंट खत्म होने का टाइम आया इससे पहले मुकेश अंबानी ने सब कुछ प्लान कर लिया था और एक्ट एस्से कंपनी को खरीद लिया था जो सारे भारत में 4G इंटरनेट सेवा देने के लिए फाइबर ऑप्टिक केबल डाल चुका था.  उसके बाद जॉब एग्रीमेंट ख़त्म हो गए सब मुकेश अंबानी ने धीरे-धीरे अपना टेलीकॉम शुरू करने लगे.  और उसका नाम रखा रिलायंस जिओ.  एक नया कंपनी शुरू करके जल्दी से इसे पॉपुलर बनाना इतना आसान बात नहीं है.  यह बात आपको और हमें पता नहीं मुकेश अंबानी को भी पता था.  लेकिन उनको मालूम था कि भारत में लोग सब डाटा के लिए कितने प्यासे थे और उनको क्या मिल रहा है..की बात अगर करें तो आपको पता होगा कि सबका टेलीकॉम ऑपरेटर कितने पैसों में आपको कितना इंटरनेट यूज करने का या फिर कॉल करने का फायदा दे रहे थे.  1GB के डाटा के लिए आपको लगभग ₹300 खर्चा करना पड़ रहा था.  उसी बॉक्स मुकेश अंबानी ने अपने रिलायंस जियो को लांच कर दी और पहले पहले सारे सर्विस इसका पूरा मुफ्त में देना शुरू कर दिया.  धीरे-धीरे सारे इंडिया के लोग रिलायंस जियो की तरफ भागे और मुख्य सेवा यूज़ करने लगे.  लेकिन शॉप परेशानी एक ही था उसके पास भी यह रिलायंस जियो 4जी में अवेलेबल हो रहा था.  उसका भी साफ करने के लिए मुकेश अंबानी ने सस्ते स्मार्टफोन  देना भी शुरू कर दी और आगे जाकर अपना खुद का जिओ फ़ोन ब्लास्ट कर दी.  और धीरे-धीरे लोगों को यूज करने का आदत पड़ गया और उसके बाद धीरे-धीरे लोगों को ज्यादा यूज़ करने का भी आदत पड़ गया.  उसके बाद मुकेश अंबानी ने फिर चालू कर दी सबसे कम रुपया में डाटा देने की फैसिलिटी जो कि भारतीय लोग कभी भी नहीं देखे थे.

 

रिलायंस जियो का इतना बड़ा बनने का सबसे मुख्य कारण यह है उसका पहले का लोगों को फ्री में डाटा को बांटना और दूसरी बात यह है कि भारत में सबसे सस्ता वाला इंटरनेट प्लान को लाना.  इस से भी आगे कुछ सोचा जाए तो उनका मुंह में किसी भी नंबर पर कॉल करने का फैसिलिटी और SMS करने का फैसला उन को  आगे बढ़ाने में हकदार है.  जो भी बात हो लेकिन उनके रिलायंस जियो का आज भारत में जो टेलीफोन प्लान इतना  सस्ते सस्ते घर पर हमें मिल रहा है वही हमारे लिए बहुत अच्छी बात है.  हम धन्यवाद देना चाहेंगे मुकेश अंबानी जी को और उनके रिलायंस जियो को जो कि इतने बड़े क्रांति लाया इंडिया में ताकि हमें बहुत कुछ चीज मुफ्त में मिल सकता और बहुत कुछ चीज बहुत ही सस्ते में मिल सकता.